झारखंडमुख्य समाचारराज काज

चंद्रवंशियों के साथ अन्याय बर्दास्त नहीं:अशोक कुमार आज़ाद

अखिल भारत वर्षीय चंद्रवंशी क्षत्रिय महासभा का सम्मान समारोह आयोजित

  • इस समाज की सौहार्द और विकास में भूमिका सराहनीयः धीरज साहू

  • समाज कि हक़मारी कि रक्षा कि होगी, न्याय मिलेगा:सुदर्शन भगत

  • हमलोगों ने हमेशा सत्य के लिए तथा अन्याय के खिलाफ लड़ी है : प्रेम वर्मा

राष्ट्रीय खबर

रांची/ लोहरदगा : अखिल भारत वर्षीय चंद्रवंशी क्षत्रिय महासभा कि राष्ट्रीय कार्यसमिति एवं सम्मान समारोह का आयोजन बलदेव साहू शिव प्रसाद साहू धर्मशाला में किया गया। कार्यक्रम का उद्धघाटन राज्य सभा सांसद धीरज प्रसाद साहू द्वारा किया गया।इस अवसर पर सांसद धीरज प्रसाद साहू ने चंद्रवंशी समाज को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोहरदगा में राष्ट्रीय स्तर का सामाजिक उत्थान एवं सम्मान समारोह का आयोजन सराहनीय प्रयास है, चंद्रवंशी समाज हमेशा बुराइयों से लड़ा है और सत्य का साथ दिया है साथ ही मेरे परिवार का हमेशा सहयोगी रहा है। हमेशा दुःख सुख का साथ चंद्रवंशी समाज रहा है, सामाजिक सौहार्द बनाने में चंद्रवंशी समाज कि  भूमिका सकारात्मक रही है। उन्होंने चंद्रवंशी समाज के उत्थान हेतु सहयोग के रूप में अपने निधि कोष से विवाह भवन बनाने कि घोषणा किया।

लोहरदगा सांसद सुदर्शन भगत ने कहा कि चंद्रवंशी समाज देश के प्रथम चक्रवर्ती सम्राट जरासंघ महाराज के वंशज है, जो हमेशा निडरता एवं साहसिक कार्यों के लिए प्रसिद्धि रहा है। विपरीत काल होने के कारण आज इनकी अति पिछड़ापन कि हक़मारी कि जा रही है। मै मंच से चंद्रवंशी समाज के साथ हूं और इनकी हक़मारी के विरुद्ध लड़ाई में साथ हूं। साथ ही चंद्रवंशी समाज के उत्थान और कल्याण हेतु अपने संसदीय कोष से धर्मशाला निर्माण कि घोषणा करता हूं लेकिन प्रस्ताव देर से आया है तो भी देर से प्रस्ताव कि स्वीकृति देने कि वादा करता हूं ।

इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक कुमार आज़ाद ने कहा कि चंद्रवंशी समाज कि घोर उपेक्षा किया जाता रहा है लेकिन अब चंद्रवंशी समाज जागरूक हो गया है और अब भिक्षा नहीं रण होगा, चंद्रवंशियों के साथ अन्याय बर्दास्त नहीं किया जायेगा। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रेम वर्मा ने कहा कि चंद्रवंशी समाज के लोगों को सात जिलों में आरक्षण शून्य होना निंदनीय है इसकी जोरदार पुरजोर लड़ाई लड़ी जाएगी और न्याय समाज को दिलाया जायेगा। प्रदेश अध्यक्ष नितेश चंद्रवंशी ने कहा कि झारखण्ड के चंद्रवंशी समाज को हाशिये में डालने का प्रयास निंदनीय है, सी एन टी जैसे संवेदनशील मुद्दे पर झारखण्ड सरकार को विचार करना चाहिए। जो आदिवासी समाज को सी एन टी का लाभ दिया गया है पूर्णतः चंद्रवंशी समाज को भी मिलना चाहिए।कई जिलों में चंद्रवंशी समाज का आरक्षण समाप्त किया गया है जो निंदनीय है इसकी लड़ाई लड़ी जाएगी ।

प्रदेश महिला अध्यक्ष  सुश्री रेखा वर्मा ने कहा कि महिलाओं कि शिक्षा पर विशेष ध्यान देने कि आवश्यकता है, शिक्षित समाज ही विकास कि नींव बनाती है । प्रदेश युवा अध्यक्ष निश्चय वर्मा ने  युवाओं को आह्वान करते हुए कहा कि युवा में बहुत शक्ति होती है उसका सदुपयोग समाज के पिछड़ेपन को दूर करने शिक्षित बनाने में सहयोग करेंगे।इस अवसर पर सर्वसम्मति से लोहरदगा जिला कमिटी का विस्तार किया गया और 6महीना के अंदर वोटिंग के द्वारा चुनाव कराने का निर्देश दिया गया, लोहरदगा अध्यक्ष के रूप में दुबराज वर्मा, जिला महामंत्री रितेश वर्मा उर्फ़ कुणाल वर्मा तथा वरीय उपाध्यक्ष जगन्नाथ राम को बनाया गया है ।

इस अवसर पर डॉक्टर आकाश वर्मा, रोहिणी वर्मा, क्षीतिज वर्मा, अरविन्द वर्मा, अंकुर वर्मा, आंचल वर्मा, अनुराधा वर्मा, संजना वर्मा, को प्रशस्ति पत्र और मेडल देकर सम्मानित किया गया। वहीँ अवनी वर्मा, अमित वर्मा और किशोर वर्मा को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय और माया देवी को सिलाई प्रशिक्षक के सराहनीय कार्य करने पर मेडल देकर सम्मानित किया गया।

मंच संचालन राजकुमार वर्मा द्वारा किया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय कमिटी के सुरेंद वर्मा, सुरेश सिंह, प्रियरंजन उर्फ़ डिम्पल, अनूप कुमार, ओह्म प्रकाश सिंह, परसु राम, जितेंद्र उर्फ़ गुड्डू चंद्रवंशी, उदय चंद्रवंशी, सुनील चंद्रवंशी, सुरेश चंद्र वर्मा, दिलीप वर्मा, बिनोद वर्मा, रमेश वर्मा, राजेंद्र सिंह उर्फ़ रंजू, रिंकू वर्मा, जगन्नाथ राम, रितेश चंद्रवंशी, मनोज वर्मा, रेखा वर्मा, किरण वर्मा,अनीता वर्मा, अजय वर्मा, हर्षित वर्मा, शकुंतला वर्मा, ह्रितिक वर्मा, नीलम वर्मा, उषा कुमारी, रतन वर्मा, मौसमी वर्मा,पुतुल वर्मा, मनोज वर्मा, रीना देवी, राजू वर्मा, शांटू वर्मा, पूजा वर्मा, मृत्युंजय वर्मा, नितिन वर्मा, संजय वर्मा, दीपक वर्मा, रवि वर्मा, गोपाल राम वर्मा, कमल किशोर वर्मा, प्रमोद वर्मा, उषा देवी, किशोर वर्मा, रितेश वर्मा, पूजा वर्मा, मनीषा देवी, मिथलेश वर्मा, सीता देवी, मोनिका कुमारी, आशीष वर्मा, संजय वर्मा, आदि सैकड़ो चंद्रवंशी समाज के महिला पुरुष उपस्थित थे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button